त्यौहार

राम नवमी पूजा विधि

रामनवमी कन्या पूजन विधि

Ramchandra Photo
169

राम नवमी पूजा विधि, रामनवमी कन्या पूजन विधि, चैत्र नवरात्रि के समापन औ रामनवमी के दिन कन्या पूजन का खास महत्व होता है| यदि आपने पूरे नौ दिन देवी मां का व्रत रखा है तो अष्टमी और नवमी पर कन्या पूजन कर व्रत का पारण करें|

कन्या पूजन की विधि

नौ कन्याओं को आदर पूर्वक घर बुलाएं.

सभी कन्याओं को आसन पर बिठाएं और शुद्ध जल से उनके पैर धोएं.

कन्याओं का तिलक कर उन्हें कलावा बांधें.

माता रानी को भोग लगाएं और फिर कन्याओं को भोजन कराएं.

भोजन के बाद सभी कन्याओं को अपनी श्रद्धानुसार कोई उपहार देकर विदा करें.

इसके बाद खुद व्रत का पारण करें.

राम नवमी पूजा विधि

स्नान करके स्वच्छ वस्त्र धारण करें और पूजा स्थल पर सभी प्रकार की पूजन सामग्री लेकर बैठ जाएं।

पूजा की थाली में तुलसी पत्ता और कमल का फूल अवश्य रखें।

रामलला की मूर्ति को माला और फूल से सजाकर पालने में झूलाएं।

इसके बाद रामनवमी की पूजा षोडशोपचार करें।

इसके साथ ही रामायण का पाठ तथा राम रक्षास्त्रोत का भी पाठ करें।

भगवान राम को खीर, फल और अन्य प्रसाद चढ़ाएं।

पूजा के बाद घर की सबसे छोटी कन्या के माथे पर तिलक लगाएं और श्री राम की आरती उतारें।

Leave a Reply