देश

पद्म पुरस्कार क्या है और किसे मिलता है

पद्म विभूषण, पद्म भूषण, पद्म श्री

Padma Awards
258

पद्म पुरस्कार भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक हैं। यह पुरस्कार, कला, सामाजिक कार्य, जन हित के मामलों, विज्ञान एवं इंजीनियरिंग, व्यापार एवं उद्योग, मेडिसिन, साहित्य तथा शिक्षा, खेल-कूद तथा नागरिक सेवाओं के लिए दिए जाते हैं। ये पुरस्कार प्रत्येक वर्ष २६ जनवरी – गणतंत्र दिवस के अवसर पर उद्घोषित किये जाते हैं तथा सामान्यतः मार्च/अप्रैल माह में राष्ट्रपति भवन में आयोजित किये जाने वाले सम्मान समारोह में भारत के राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किये जाते हैं। वर्ष १९५४ में पहली बार पद्म अवार्ड की घोषणा की गई थी। एक साल दिए जाने वाले पद्म पुरस्कारों की संख्या 120 से ज्यादा नहीं होती है।

पद्म पुरस्कार तीन श्रेणियों में प्रदान किए जाते हैं

पद्म विभूषण

पद्म पुरस्कार भारत-रत्न के बाद भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। यह सम्मान किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट और उल्लेखनीय सेवा के लिए प्रदान किया जाता है। इस सम्मान में पुरस्कार स्वरूप कांसे का एक बिल्ला मिलता है। इसके केंद्र में एक कमल का फूल होता है। जिसकी पांच पत्तियां इसे घेरे रहती हैं| इसमें सफेद रंग में फूल की पत्तियां होती हैं। इस फूल के ऊपर नीचे पद्म विभूषण लिखा होता है। बिल्ले के पिछले हिस्से में अशोक चिन्ह बना होता है।

पद्म भूषण

पद्म पुरस्कार पद्म विभूषण के बाद भारत का तीसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। यह सम्मान भारत सरकार द्वारा उत्कृष्ट कोटि की विशिष्ट सेवा के लिये दिया जाता है। इस सम्मान में भी कांसे का बिल्ला दिया जाता है। इसके केंद्र में एक कमल का फूल होता है| जिसकी तीन पत्तियां इसे घेरे रहती हैं। इस फूल के ऊपर नीचे पद्मभूषण लिखा रहता है। बिल्ले के पिछले हिस्से में अशोक चिन्ह बना होता है।

पद्म श्री

पद्म श्री पुरस्कार पद्म भूषण के बाद भारत का चौथा सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। यह सम्मान भारत सरकार द्वारा किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के फलस्वरूप प्रदान किया जाता है। भारत सरकार द्वारा आम तौर पर सिर्फ भारतीय नागरिकों को दिया जाने वाला सम्मान है। इस सम्मान में भी कांसे का बिल्ला दिया जाता है| इसके केंद्र में एक कमल का फूल होता है| जिसकी पांच पत्तियां इसे घेरे रहती हैं। इस फूल के ऊपर नीचे पद्म श्री लिखा रहता है। बिल्ले के पिछले हिस्से में अशोक चिन्ह बना होता है।

कैसे होता है पद्म पुरस्कार चयन?

इस सम्मान के लिए नामों पर विचार करने के लिए प्रधानमंत्री हर साल एक समिति का गठन करते हैं। पदम पुरस्‍कारों की सिफारिश राज्‍य सरकार/संघ राज्‍य प्रशासन, केन्‍द्रीय मंत्रालय/विभाग के साथ साथ उत्‍कृष्‍टता संस्‍थानों आदि से प्राप्‍त की जाती हैं। इसके बाद यह समिति इन नामों पर विचार करती है। पुरस्कार समिति जब एक बार सिफारिश कर देती है फिर प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और राष्ट्रपति इस पर अपना अनुमोदन देते हैं और इसके बाद गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर इन सम्मानों की घोषणा की जाती है।

केन्द्र सरकार ने एक पोर्टल शुरू किया है जहां व्यक्तिगत रूप से, मंत्रालयों अथवा राज्य सरकारों द्वारा की गई सिफारिशें स्वीकार की जा सकती है। पोर्टल के अलावा किसी भी अन्य तरीके से नामांकन स्वीकार नहीं किए जाता। सिफारिश करने वाले को अपना नाम और आधार कॉर्ड के नंबर का उल्लेख करना होगा।

पद्म पुरस्कार २०१९ की घोषणा

२०१९ में कुल ११२ लोगों को पद्म पुरस्कार दिए जायेंगे. ४ लोगों को पद्म विभूषण, १४ को पद्म भूषण और ९४ को पद्मश्री पुरस्कार दिया जाएगा| पद्म पुरस्कार पाने वालों में २१ महिलाएं, एक ट्रांसजेंडर और ११ विदेशी / एनआरआई / पीआईओ / ओसीआई शामिल हैं| पद्म पुरस्कारों में से तीन ऐसे हैं जिन्हें मरणोपरान्त यह सम्मान दिया जायेगा| इस साल ११ मार्च को ५४ लोगों को और बाकि के ५८ लोंगो को १६ मार्च को सम्मानित किए जाएंगे|

वर्ष २०१९ के घोषित पद्म पुरस्कारों की सूची

पद्म विभूषण

१. तीजनबाई: लोकगीत, छत्तीसगढ़

२. इस्माइल उमर गुएल (विदेशी): लोक प्रशासन, जिबूती

३. अनिल कुमार मणिभाई नाइक: उद्योग एवं व्यापार, महाराष्ट्र

४. बलवंत मोरेश्वर पुरंडारे: कलाकार, महाराष्ट्र।

पद्म भूषण

१. जान चैंबर्स (विदेशी): उद्योग एवं व्यापार, अमेरिका

२. सुखदेव सिंह ढींढसा: लोकप्रशासन, पंजाब

३. प्रवीन गोर्धन (विदेशी): लोकप्रशासन, दक्षिण अफीका

४. महाशय धर्मपाल गुलाटी: उद्योग एवं व्यापार, दिल्ली

५. दर्शन लाल जैन: सामाजिक कार्य, हरियाणा

६. अशोक लक्ष्मण राव कूकड़े: दवा, महाराष्ट्र

७. करिया मुंडा: लोकप्रशासन, झारखंड

८. बुद्धादित्य मुखर्जी: कला संगीत, पश्चिम बंगाल

९. मोहन लाल विश्वनाथ नायर: अभिनय, केरल

१०. एस नांबि नारायण: विज्ञान एवं इंजीनियरिंग, केरल

११. कुलदीप नैयर (मरणोपरांत): साहित्य,शिक्षा (पत्रकारिता), दिल्ली

१२. बछेंद्रीपाल: खेल, उत्तराखंड

१३. वीके सुंगलू: लोकसेवा दिल्ली

१४. हुक्मदेव नारायण यादव: लोक प्रशासन, बिहार

पद्मश्री

१. राजेश्वर आचार्य: हिन्दुस्तानी संगीत, उत्तर प्रदेश

२. बंगारू आदिगलार: अध्यात्म, तमिलनाडु

३. इलियास अली: चिकित्सा, असम

४. मनोज वाजपेयी: फिल्म, महाराष्ट्र

५. उद्धव कुमार भराली: विज्ञान एवं अभियांत्रिकी, असम

६. ओमेश कुमार भारती: चिकित्सा, हिमाचल प्रदेश

७. प्रीतम भरतवाण: लोकसंगीत, उत्तराखंड

८. ज्योति भट्ट: पेंटिंग, गुजरात

९. दिलीप चक्रवती: पुरातत्व, दिल्ली

१०. मम्मेन चांडी: चिकित्सा, पश्चिम बंगाल

११. स्वपन चौधरी: तबला वादन, पश्चिम बंगाल

१२. कंवल सिंह चौहान: कृषि, हरियाणा

१३. सुनील छेी: फुटबाल, तेलंगाना

१४. दिनयार कांट्रेक्टर: रंगमंच, महाराष्ट्र

१५. मुक्ताबेन पंकज कुमार दागली: समाज सेवा, गुजरात

१६. बाबू लाल दहिया: कृषि, मध्यप्रदेश

१७. थंगा दारलांग: बांसुरी वादन, त्रिपुरा

१८. प्रभु देवा: नृत्य, कर्नाटक

१९. राजकुमारी देवी: कृषि, बिहार

२०. भागीरथी देवी: लोक प्रशासन, बिहार

२१. बलदेव सिंह ढिल्लों: विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी कृषि, पंजाब

२२. हारिका द्रोणावल्ली: शतरंज, आंध्र प्रदेश

२३. गोदावरी दत्ता: पेंटिंग, बिहार

२४. गौतम गंभीर: क्रिकेट, दिल्ली

२५. द्रौपदी घिमरे: समाज सेवा, सिक्किम

२६. रोहिणी गोडबोले: विज्ञान एवं अभियांत्रिकी, कर्नाटक

२७. डॉ संदीप गुलेरिया: चिकित्सा, दिल्ली

२८. प्रताप सिंह हरदिया: चिकित्सा, मध्य प्रदेश

२९. बुलु इमाम: समाज सेवा, झारखंड

३०. फ्रेड्रिक इरीना (विदेशी): समाजसेवा, जर्मनी

३१. जोरावर सिंह जाधव: लोकनृत्य, गुजरात

३२. एस जयशंकर: लोकसेवा, दिल्ली

३३. नरसिंह देव जामवाल: साहित्य एवं शिक्षा, जम्मू: कश्मीर

३४. फयाज अहमद जान: शिल्प, जम्मू: कश्मीर

३५. के जी जयन: भक्ति संगीत, केरल

३६. सुभाष काक (विदेशी): विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी, अमेरिका

३७. शरद कमल: टेबल टेनिस, तमिलनाडु

३८. रजनीकांत: समाजसेवा, उत्तर प्रदेश

३९. सुदाम काटे : चिकित्सा, महाराष्ट्र

४०. वामन केंद्रे: रंगमंग, महाराष्ट्र

४१. कादर खान (मरणोपरांत): फिल्म अभिनय, कनाडा

४२. अब्दुल गफूर खत्री: पेंटिंग, गुजरात

४३. रवींद्र कोल्हे और श्रीमती स्मिता कोल्हे: चिकित्सा, महाराष्ट्र

४४. बोम्बाइला देवी लाइसराम: तीरंदाज, मणिपुर

४५. कैलाश मादबैया, शिक्षा एवं साहित्य, मध्य प्रदेश

४६. रमेश बाबा जी महाराज: समाजसेवा, उत्तर प्रदेश

४७. बल्लभभाई वसरामभाई मारवानिया: कृषि, गुजरात

४८. गीता मेहता: विदेशी: साहित्य एवं शिक्षा, अमेरिका

४९. शादाब मोहम्मद: चिकित्सा, उत्तर प्रदेश

५०. के के मोहम्मद: पुरातत्व, केरल

५१. श्यामा प्रसाद मुखर्जी: चिकित्सा, झारखंड

५२. दायी नाइक: समाजसेवा, ओडिशा

५३. शंकर महादेवन नारायण: संगी, महाराष्ट्र

५४. शांतुनु नारायण: विदेशी: उद्योग, अमेरिका

५५. नृतकी नटराज: नृत्य, तमिलनाडु

५६. शेरिंग नोरबु: चिकित्सा, जम्मू: कश्मीर

५७. अनूप रंजन पांडे्य: संगीत, छत्तीसगढ़

५८. जगदीश प्रसाद पारिख: कृषि, राजस्थान

५९. गणपत भाई पटेल: विदेशी: साहित्य एवं शिक्षा, अमेरिका

६०. विमल पटेल: स्थापत्य, गुजरात

६१. हंसमुख चंद पाटीदार: कृषि, राजस्थान

६२. हर¨वदर सिंह फुल्का: लोक प्रशासन, पंजाब

६३. मदुरई चिन्ना पिल्लई: समाज सेवा, तमिलनाडु

६४. ताओ पुरचोन लिंच: विदेशी: योग, अमेरिका

६५. कमला पुजारी: कृषि, ओडिशा

६६. बजरंग पुनिया: कुश्ती, हरियाणा

६७. जगतराम: चिकित्सा, चंडीगढ

६८. आर बी रमानी: चिकित्सा, तमिलनाडु

६९. देवरापल्ली प्रकाश राव: समाजसेवा, ओडीशा

७०. अनूप साह: फोटोग्राफी, उत्तराखंड

७१. मिलेना सालविनी: विदेशी: नृत्य, फ्रांस

७२. नागिनदास सांघवी: साहित्य एवं शिक्षा, पत्रकारिता, महाराष्ट्र

७३. शिरीवेनेला सीतारामा शासी: गीत लेखन, तेलंगाना

७४. शब्बीर सयाद: समाजसेवा, महाराष्ट्र

७५. महेश शर्मा: समाज सेवा, मध्य प्रदेश

७६. मोहम्मद हनीफ खान शसी: साहित्य एवं शिक्षा, दिल्ली

७७. ब्रिजेश कुमार शुक्ला: साहित्य एवं शिक्षा, उत्तर प्रदेश

७८. नरेंद्र सिंह : पशुपालन, हरियाणा

७९. प्रशांति सिंह: वास्केटबाल, उत्तर प्रदेश

८०. सुल्तानसिंह: पशुपालन, हरियाणा

८१. ज्योति कुमार सिन्हा: समाज सेवा, बिहार

८२. आनंदन शिवामणि: संगीत, तमिलनाडु

८३. शारदा श्रीनिवासन: पुरातत्व, कर्नाटक

८४. देवेंद्र स्वरूप: मरणोपरांत: पत्रकारिता, उत्तर प्रदेश

८५. अजय ठाकुर: कबड्डी, हिमाचल प्रदेश

८६. राजीव तारानाथ: सरोद वादन, कर्नाटक

८७. साूल मारादा थिमक्का: समाज सेवा, कर्नाटक

८८. जमुना टुडु: समाजसेवा, झारखंड

८९. भारत भूषण त्यागी: कृषि, उत्तर प्रदेश

९०. रामस्वमी वेंकटस्वामी: चिकित्सा, तमिलनाडु

९१. राम सरन वर्मा: कृषि, उत्तर प्रदेश

९२. स्वामी विसुदनंदा: अध्यात्म, केरल

९३. हीरालाल यादव: लोक गायन, उत्तर प्रदेश

९४. वेंकटेश्वर राव यदलापल्ली: कृषि, आंध्र प्रदेश

Leave a Reply