देश

मन की बात ५३ पीएम मोदी

अलगी मन की बात लोकसभा चुनाव के बाद होगी

Mann Ki Baat
120

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ५३ वीं बार ‘मन की बात’ कर रहे हैं| इसमें उन्होंने पुलवामा हमले का जिक्र करते हुए शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की और जवानों की पराक्रम गाथा को बयां किया| उन्होंने कहा, ‘भारत-माता की रक्षा में, अपने प्राण न्योछावर करने वाले, देश के सभी वीर सपूतों को, मैं नमन करता हूं| यह शहादत, आतंक को समूल नष्ट करने के लिए हमें निरन्तर प्रेरित करेगी, हमारे संकल्प को और मजबूत करेगी’|

पीएम मोदी ने सुरक्षाकर्मियों की हौसला आफजाई करते हुए कहा कि हमारी सेना के जवानों ने आतंकियों को करारा जवाब दिया और अदम्य साहस का परिचय देते हुए पुलवामा हमले के १०० घंटे के अंदर आतंकवादियों को मौत के घाट उतार दिया| उन्होंने कहा कि हमारे वीर सैनिकों ने बदला दिया|

पुलवामा हमले पर पीएम मोदी ने कहा कि भारत-माता की रक्षा में अपने प्राण न्यौछावर करने वाले देश के सभी वीर सपूतों को मैं नमन करता हूं| यह शहादत, आतंक को नष्ट करने के लिए हमें लगातार प्रेरित करेगी. हमारे संकल्प को और मजबूत करेगी| पीएम मोदी ने कहा कि सुरक्षाबलों ने आतंकियों को उन्‍हीं की भाषा में जवाब दिया है|

पीएम ने कहा कि भारत की बात हो और त्यौहार की बात न हो, ऐसा हो ही नहीं सकता. शायद ही हमारे देश में कोई दिन ऐसा नहीं होता है, जिसका महत्व ही न हो, जिसका कोई त्यौहार न हो| क्योंकि हज़ारों वर्ष पुरानी संस्कृति की ये विरासत हमारे पास है|

देशभर  में अलग-अलग शिक्षा बोर्ड अगले कुछ हफ़्तों में दसवीं और बारहवीं कक्षा के बोर्ड के इम्तिहान के लिए प्रक्रिया प्रारंभ करेंगें| परीक्षा देने वाले सभी विद्यार्थियों को, उनके अभिभावकों को और सभी शिक्षकों को मेरी ओर से हार्दिक शुभकामनाएँ हैं|

गुजरात के अब्दुल गफूर खत्री जी को ही लीजिए, उन्होंने कच्छ के पारंपरिक रोगन पेंटिंग को पुनर्जीवित करने का अद्भुत कार्य किया| वे इस दुर्लभ चित्रकारी को नई पीढ़ी तक पहुँचाने का बड़ा कार्य कर रहे हैं|

हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री मोरारजी भाई देसाई का जन्म २९ फरवरी को हुआ था और यह दिन ४ वर्ष में एक बार ही आता है| सहज, शांतिपूर्ण व्यक्तित्व के धनी, मोरारजी भाई देश के सबसे अनुशासित नेताओं में से थे|

Leave a Reply