देश

आपातकाल की आज है बरसी २५ जून १९७५

४४ साल पुरे होने पर किसने क्या कहा

Indira Gandhi Emergency
97

आपातकाल की आज है बरसी २५ जून १९७५, ४४ साल पुरे होने पर किसने क्या कहा, जानिए आपातकाल से जुडी बाते और हकीकत क्या है| आपातकाल को देश के लोकतंत्र में काले धब्बे की तरह की देखा जाता है| भारत में 25 जून 1975 से 21 मार्च 1977 तक का 21 महीने तक आपातकाल घोषित था। तत्कालीन राष्ट्रपति फ़ख़रुद्दीन अली अहमद ने तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के कहने पर भारतीय संविधान की धारा 352 के अधीन आपातकाल की घोषणा कर दी।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी इसको लेकर ट्वीट किया| उन्होंने लिखा कि आज इमरजेंसी की बरसी है, लेकिन पिछले पांच साल में देश में सुपर इमरजेंसी लागू हो गई है|

इस दौरान बॉलिवुड के महान गायक किशोर कुमार तक की आवाज दबाने की भी कोशिश की गई थी। तब किशोर कुमार के गाने चलाने पे पाबंधी लगादी गई थी|

लाल कृष्ण आडवाणी को आपातकाल के करीब हफ्ते पहेल ज्योतिषी डॉ. वसंत कुमार पंडितजी ने भविष्यवाणी की थी की आपातकाल होनेवाला है|

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को लोगों से देश में आपातकाल जैसी स्थिति दोबारा ना उत्पन्न होने देने का संकल्प लेने का आह्वान किया|

ट्रेड यूनियन लीडर के रूप में सियासी करियर शुरू करने वाले धुर समाजवादी नेता जॉर्ज फर्नांडिस को भी जेल भेज दिया था|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आपातकाल की एक वीडियो जारी करके इसे याद किया तो वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट करते हुए कहा कि राजनीतिक हितों के लिए देश के लोकतंत्र की हत्या की गई थी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके कहा कि आपातकाल भारत के इतिहास के काला अध्याय में से एक है।

Leave a Reply