त्यौहार

होलिका दहन मुहूर्त

होलिका दहन पूजा

Holi Pic
157

होलिका दहन मुहूर्त, होलिका दहन पूजा, होलिका दहन के अगले दिन रंगवाली होली खेली जाती है जिसे श्री राधा-कृष्ण के पवित्र प्रेम की याद में भी मनाया जाता है।

होली का पर्व साल में आने वाले सबसे बड़े त्योहारों में से एक है जिसे केवल भारत में ही नहीं बल्कि दूर देशों में भी बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। क्या बच्चे, क्या बड़े, क्या महिलाएं और क्या पुरुष सभी इस पर्व का भरपूर आनंद उठाते हैं। इसीलिए तो इसे आनंद और उल्लास का पर्व भी कहा जाता है। लाल, पीले, हरे, गुलाबी आदि रंगों से रंगे गाल माहौल को और खुशनुमा बना देते है।

बहुत से लोग होली के दिन ही अपनी पुरानी दुश्मनी भुलाकर दोस्तों को होली मुबारक करते हैं। सांस्कृतिक रूप से होली ऐसा पर्व है जिसे मनाने वालों में कोई भिन्नता नहीं होती सभी एक ही रंग में रंगे एक दूसरे के साथ ख़ुशी के इस पर्व का आनंद उठाते हैं। लेकिन सांस्कृतिक महत्व होने के साथ-साथ होली का धार्मिक रूप से भी बहुत अधिक महत्व है।

होलिका दहन मुहूर्त

२०१९ में होलिका दहन का शुभ मुहूर्त = २०:५८ से २४:२३ तक

होलिका दहन भद्रा विचार

भद्रा पूंछ = १७:३४ से १८:३५

भद्रा मुख = १८:३५ से २०:१७

पूर्णिमा तिथि का समय

पूर्णिमा तिथि आरंभ = २० मार्च २०१९, बुधवार सुबह १०:४४ बजे।

पूर्णिमा तिथि समाप्त = २१ मार्च २०१९, गुरुवार सुबह ०७:१२ बजे।

होलिका दहन के नियम

रात का समय

भद्रा बीत चुकी हो

Leave a Reply