धर्म

हनुमानजी की आरती

हनुमान जयंती आरती

Hanumanji Picture
152

हनुमानजी की आरती, हनुमान जयंती आरती, हनुमान पूरे भारत में यह लोकप्रिय है किन्तु विशेष रूप से पुरे भारत में यह बहुत प्रसिद्ध एवं लोकप्रिय है। यमदेव ने अवध्य और नीरोग रहने का आशीर्वाद दिया। यक्षराज कुबेर, विश्वकर्मा आदि देवों ने भी अमोघ वरदान दिये। इसीलिए हनुमान जयंती भारतभर में पुरे धूम धाम से मनाई जाती है|

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

जाके बल से गिरिवर कांपे

रोग दोष जाके निकट न झांके

अंजनि पुत्र महा बलदाई

सन्तन के प्रभु सदा सहाई

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

दे बीरा रघुनाथ पठाए

लंका जायी सिया सुधि लाए

लंका सो कोट समुद्र सीखाई

जात पवनसुत बार न लाई

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

लंका जारि असुर संहारे

सियारामजी के काज सवारे

लक्ष्मण मूर्छित पड़े सकारे

आनि संजीवन प्राण उबारे

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

पैठि पाताल तोरि जम कारे

अहिरावण की भुजा उखारे

बाएं भुजा असुरदल मारे

दाहिने भुजा संत जन तारे

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

सुर नर मुनि आरती उतारें

जय जय जय हनुमान उचारें

कंचन थार कपूर लौ छाई

आरती करत अंजनी माई

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

जो हनुमानजी की आरती गावे

बसि बैकुण्ठ परम पद पावे

लंक बिध्वंश किन्ही रघुराई

तुलसी दस स्वामी आरती गाई

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

दुष्ट दलन रघुनाथ कला की

आरती कीजै हनुमान लला की

Leave a Reply