ज्योतिष

६ जनवरी को पड़ेगा वर्ष २०१९ का पहला सूर्य ग्रहण

रविवार को पड़ेगा पहला सूर्य ग्रहण

Total Solar Eclipse
289

६ जनवरी २०१९ यानी रविवार को पड़ेगा। भारत में यह नहीं दिखेगा। भारत के समय के अनुसार यह सुबह ५:०४ बजे से शुरू होगा| यह आंशिक सूर्य ग्रहण होगा। इसका असर भारत में देखने को नहीं मिलेगा। कुछ राशियों पर इसका असर पड़ेगा। वहीं मेष, तुला और कुंभ के लिए ये सूर्य ग्रहण काफी फलदायी होने वाला है। यह ग्रहण अमावस्याे के दिन पड़ेगा। इस दिन दान, पूर्जा-अर्चना, मंत्र पाठ, तीर्थस्नान, ध्यान और हवन करना काफी फलदायी होगा।

ब्रह्मांड में होने वाली इस खगोलीय घटना को सनातन धर्म में पूजा-पाठ से भी जोड़कर देखा जाता है। सूतक के समय भोजन आदि ग्रहण नहीं करना चाहिए और जल का भी सेवन नहीं करना चाहिए। ग्रहण से पहले ही जिस पात्र में पीने का पानी रखते हों उसमें कुशा और तुलसी के कुछ पत्ते डाल देने चाहिए। कुशा और तुलसी में ग्रहण के समय पर्यावरण में फैल रहे जीवाणुओं को संग्रहीत करने की अद्भुत शक्ति होती है।

स्नान करें और अन्न, वस्त्र, धनादि का दान करें। ग्रहण के बाद पूरे घर में गंगा जल छिड़कें। ग्रहण काल में मंत्र जाप व चिंतन के कार्य करने का विधान है. इसलिए ग्रहण का मोक्ष काल समाप्त होते ही भगवान के दर्शन करना विशेष शुभ फल देता है। सूर्य ग्रहण के बाद मंदिर की सफाई करें और भगवान को नये कपड़े पहनाएं।ग्रहण के पहने गए कपड़ों को भी दान कर दें।

ग्रहण के बाद पानी को बदल लेना चाहिए। अनेक वैज्ञानिक शोधों से भी यह सिद्ध हो चुका है कि ग्रहण के समय मनुष्य की पाचन शक्ति बहुत शिथिल हो जाती है। ऐसे में अगर उसके पेट में दूषित अन्न या पानी चला जाएगा तो उसके बीमार होने की संभावना बढ़ जाती है।

Leave a Reply